समर्थक

मंगलवार, 15 मार्च 2011

":प्रमाण पत्र पर अपना नाम भर लें-हैप्पी होली" (श्रीमती अमर भारती)


अमर भारती साप्ताहिक पहेली-74
का सही उत्तर है!
गुरूद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब,
जिला ऊधमसिंहनगर (उत्तराखण्ड)

इस पहेली के विजेता निम्न प्रमाणपत्र पर
अपना नाम भर लें!
अगर न भर सकें तो टिप्पणी में बता दें!
हम भरकर भेज देंगे!
यह आप सबको होली की भेंट है!
श्री.......................जी
की सम्पत्ति है।
आपके प्रतिभाग करने के लिए आभार!
अपनी टिप्पणियाँ आप स्वयं ही देख लीजिए न▬

17 comments:

दर्शन लाल बवेजा १३ मार्च २०११ ८:०२ पूर्वाह्न 
नानकमत्ता गुरुद्वारा साहिब
दर्शन लाल बवेजा १३ मार्च २०११ ८:०७ पूर्वाह्न 
Gurudwara Shri Nanakanna Sahib, Kashipur, Uttrakhand
दर्शन लाल बवेजा १३ मार्च २०११ ८:०७ पूर्वाह्न 
Gurudwara Shri Reetha Sahib, Reetha, Uttrakhand
दर्शन लाल बवेजा १३ मार्च २०११ ८:२८ पूर्वाह्न 
GURDWARA SHRI BHANDARA SAHIB, NANAKMATA
ओशो रजनीश १३ मार्च २०११ ८:५७ पूर्वाह्न 
गुरुद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब

चित्र मे है _ नीरज जाट 

http://neerajjaatji.blogspot.com/2010/03/blog-post_15.html
डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) १३ मार्च २०११ ९:२१ पूर्वाह्न 
यह पोस्टलेखक के द्वारा निकाल दी गई है.
डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) १३ मार्च २०११ ९:२२ पूर्वाह्न 
ओशो रजनीश जी!
इस पोस्ट में तो यह चित्र है ही नहीं!
अपनी टिप्पणी पर पुन्रविचार कर लीजिए!
दर्शन लाल बवेजा १३ मार्च २०११ ९:२८ पूर्वाह्न 
सही जवाब मिला या फिर से जुटें जी ??
डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) १३ मार्च २०११ ९:५९ पूर्वाह्न 
दर्शन लाला बवेजा जी!
जिस उत्तर को आप अन्तिम टिप्पणी में भेजेंगे!
वही फानल माना जाएगा!
दर्शन लाल बवेजा १३ मार्च २०११ १०:५२ पूर्वाह्न 
Gurudwara Shri Reetha Sahib, Reetha, Uttrakhand
फिर ये है अंतिम टिप्पणी
बंटी "द मास्टर स्ट्रोक" १३ मार्च २०११ ११:१९ पूर्वाह्न 
मैं जब खटीमा निवासी डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री ’मयंक’ जी के यहां गया तो पहले तो एक चक्कर प्रसिद्ध शक्तिपीठ पूर्णागिरी का लगाया। फिर शास्त्री जी के साथ उन्ही की कार में बैठकर नानकमत्ता गया। शास्त्री जी तो इसी इलाके के रहने वाले हैं, उन्हे पूरी जानकारी है। इसलिये उन्होने एक पोस्ट भी लिख दी है नानकमत्ता के बारे में।
बंटी "द मास्टर स्ट्रोक" १३ मार्च २०११ ११:१९ पूर्वाह्न 
गुरुद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब
दर्शन लाल बवेजा १३ मार्च २०११ ११:२० पूर्वाह्न 
डा. साब जी 
ये जो नीरज के साथ छोटी बच्ची है आप की पोती है क्या ?
आप जैसी लग रही है |
दर्शन लाल बवेजा १३ मार्च २०११ ११:२३ पूर्वाह्न 
अगर नानक मत्ता साहिब है तो मेरा जवाब सही माना जाए क्यूंकि अंतिम टिप्पणी वाली शर्त पहले नहीं होती थी 
यह टिप्पणी प्रकाशित हुई तब मैंने इसे गलत मान कर दोबारा जवाब दिया 
प्लीज़ अगली पहेली से लगा देना यह नई शर्त 
:))
बंटी "द मास्टर स्ट्रोक" १३ मार्च २०११ ११:३२ पूर्वाह्न 
@दर्शन लाल जी 

आप की अंतिम टोप्पणी वही मनी जाएगी जो अंतिम होगी 

वैसे आप जवाब की जांच कर सकते है मेरे ब्लॉग पर जाकर 

मेरे ब्लॉग पर आपका स्वागत है
नीरज जाट जी १४ मार्च २०११ ६:४५ पूर्वाह्न 
शास्त्री जी,
अब बण्टी चोर मेरा नाम भी पहेलियों में जोडने लगा है। जब जाट पहेलियां छपती थी तो अगले की सांस अटक जाती थी। 
और आपने जिसका भी फोटू पहेली में लगाया है, उसके साथ तो घोर नाइंसाफी है। बेचारा सबकुछ जानते हुए भी पहेली में भाग नहीं ले सकता। 
मेरे ख्याल से यह नानकमत्ता वाला गुरुद्वारा नहीं है। वो तो मेरा देखा हुआ है। मैं उसे एक नजर में ही पहचान सकता हूं। 
और कल बिटिया का जन्मदिन भी तो था। शुभकामनाएं।
दर्शन लाल बवेजा १४ मार्च २०११ ९:५२ अपराह्न 
नानकमत्ता गुरुद्वारा साहिब
मेरा पहला और फाईनल उत्तर
अमर भारती पहेली न.-75
अगले रविवार को
प्रातः 8 बजे प्रकाशित की जायेगी!

Google+ Followers

चुराइए मत! अनुमति लेकर छापिए!!

Protected by Copyscape Online Copyright Infringement Protection

लिखिए अपनी भाषा में